Sad Zindagi Shayri on Badalti Tasveer

 रिमझिम तो है मगर सावन गायब है,

बच्चे तो हैं मगर बचपन गायब है..!!

क्या हो गयी है तासीर ज़माने की यारों

अपने तो हैं मगर अपनापन गायब है !

Sad Zindagi Shayri on Badalti Tasveer , Life quotes, friendship quotes, change on life, Life shayari, shayari in hindi, best shayari in hindi, hindi shayari, Love shayri, quotes in hindi.



टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां